लखनऊ शूटआउट: BJP विधायक-मंत्री ने ही योगी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

लखनऊ शूटआउट: BJP विधायक-मंत्री ने ही योगी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

लखनऊ शूटआउट मामले में सीएम योगी की मुसीबतें कम होती नजर नहीं आ रही है. अब उनके ही सरकार में मंत्री और विधायकों योगी को पत्र लिखकर पुलिस के  कामकाज करने के तरीके पर सवाल खड़े किए हैं.

फाइल फाेटो
फाइल फाेटो

लखनऊ शूटआउट कांड में योगी सरकार के विधायक और मंत्री अब सरकार के ही खिलाफ मोर्चा खोलते नजर आ रहे हैं. प्रदेश के दो विधायकों और एक मंत्री ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर पुलिस की कार्यशैली पर गंभीर सवाल उठाए हैं. इतना ही नहीं मंत्री-विधायकों ने लखनऊ के एसपीडीएम के साथ-साथ पुलिस महकमे में भी बड़े फेरबदल की मांग की है.

जिन मंत्री विधायकों ने सीएम योगी का मामले में पत्र लिखा है, उनमें हरदोई विधायक रजनी तिवारी, बरेली के विधायक राजेश कुमार मिश्र और लखनऊ से विधायक और योगी सरकार में कानून मंत्री ब्रजेश पाठक शामिल हैं.

मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि हम देख रहे हैं कि पुलिस के कुछ आला अफसर मामले को तोड़-मरोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. सरकार उनके खिलाफ कदम उठाएगी. में साफ कर देना चाहता हूं कि बीजेपी सरकार दोषियों को माफ नहीं करेगी. पुलिस इंस्पेक्टर को माफ नहीं करेगी. जिन्होंने भी निर्दोष की हत्यारों को सजा दी जाएगी. पुलिस इंस्पेक्टर को नहीं बख्शा जाएगा. यह बहुत दुखद है कि कुछ लोग मामले में राजनीति कर रहे हैं.

वहीं, हरदोई विधायक रजनी तिवारी के मुताबिक, लखनऊ में हुई ये घटना बताती है कि प्रशासन पूरी तरफ असंवेदनशील हो चुका है. जो शख्स सलाखों के पीछे होना चाहिए वह आजाद है. मैं मांग करती हूं कि जो भी इस मामले में जिम्मेदार है, उसके खिलाफ जांच के तहत सख्त कार्रवाई होनी चाहिए.

बरेली विधायक राजेश कुमार मिश्रा ने योगी को लिखे पत्र में कहा है लखनऊ डीएम और एसएसपी मामले में दबाने और आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. साथ ही पुलिस पीड़ित परिवार को डराने-धमकाने की कोशिश कर रही है. डीएम और एसएसपी को तुरंत सस्पेंड कर देना चाहिए.

मालूम हो कि शुक्रवार रात लखनऊ के गोमती नगर इलाके में गाड़ी नहीं रोकने पर एक सिपाही ने एप्पल कंपनी में मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

इस मामले में आरोपी पुलिसकर्मी प्रशांत चौधरी और संदीप के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है. दोनों को बर्खास्त भी कर दिया गया है. वहीं, आरोपी पुलिस जवान ने खुद की आत्मरक्षा में गोली चलाने की बात कही है.

बता दें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लखनऊ की घटना दुखद है. ऐसी किसी भी आपराधिक कृत्य पर सरकार सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी. इस मामले में फौरन गिरफ्तारी हुई, मुकदमा दर्ज किया गया. इस तरह की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बाद सख्त निर्देश जारी किए गए हैं, ताकि फिर ऐसी घटना न हो.

उन्होंने रविवार रात विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना से फोन पर बात कर अपनी संवेदना जताई. योगी ने कल्पना को आश्वस्त किया है कि सरकार उनके परिवार की हर संभव मदद करेगी. उन्होंने ये भी कहा कि वे उनसे सभी भी मिल सकते हैं.

Be the first to comment on "लखनऊ शूटआउट: BJP विधायक-मंत्री ने ही योगी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
www.000webhost.com